2017 में प्रदेश की कानून-व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से ए0टी0एस0 को मिली शानदार सफलता - Police Wala News

2017 में प्रदेश की कानून-व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से ए0टी0एस0 को मिली शानदार सफलता

मा0 मुख्यमंत्री की मंशा के अनुसार वर्ष-2017 में प्रदेश की कानून-व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से ए0टी0एस0 को मिली शानदार सफलता
देश-विरोधी गतिविधियों में संलिप्त 85 अपराधी गिरफ्तार, मुठभेड़ में एक मृत
27 अवैध शस्त्र, 700 से अधिक कारतूस, 14 कम्प्यूटर तथा 21 सिमबॉक्स आदि बरामद

लखनऊः 16 जनवरी, 2018
प्रदेश में कानून-व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से आतंकवादी गतिविधियों के विरूद्व एटीएस की विभिन्न टीमों द्वारा वर्ष 2017 में बेहद सक्रिय भूमिका निभायी गयी जिसके फलस्वरूप प्रदेश में किसी भी स्थान पर कोई आतंकवादी घटना नही हुई।
एटीएस उत्तर प्रदेश द्वारा न केवल इस वर्ष आतंकवादी गतिविधियों पर लगातार कड़ी नजर रख कर प्रदेश में अमन शान्ति कायम की गयी बल्कि आतंकवादी एवं नक्सली गतिविधियों सहित अन्य अपराधों में लिप्त 85 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया तथा एक आतंकी मुठभेंड़ में मारा गया ।
आतंकवादी संगठनों के विरूद्व कार्यवाही-मुठभेड़ में एक आतंकी मृतदृआतंकी मो0 सैफुल्लाह उर्फ अली निवासी कानपुर दिनांक 8 मार्च, 2017 को एटीएस से मुठभेड़ में लखनऊ के काकोरी क्षेत्र मे मारा गया। सैफुल्लाह के पास से प्रमुखतः 08 पिस्टल,.32 बोर 630 जिन्दा राउण्ड तथा 71 खोखा राउण्ड कारतूस, वाकी-टाकी सेट, गन पाउडर, प्ैप्ै का बैनर, पासपोर्ट, हस्त लिखित साहित्य, रियाल विदेशी मुद्रा के कुछ नोट तथा नकदी आदि बरामद हुए थे। इसी प्रकरण में अन्य अभियुक्त मो0 फैसल खां तथा मो0 अजहर निवासीगण कानपुर को कानपुर से तथा फखरे आलम तथा शैलेन्द्र को इटावा से गिरफ्तार किया गया।
आईएसआईएस से सम्बन्धित आतंकवादियों के विरुद्ध कार्यवाही- आतंकी संगठनों के सदस्यों के संबंध में सूचना संकलन के दौरान ज्ञात हुआ था कि कुछ लोगों का एक समूह देश में अशांति फैलाकर, सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने के आरोप में साक्ष्य के आधार पर 20 अप्रैल को एटीएस ने विभिन्न सुरक्षा एजेन्सियों के साथ कार्यवाही करते हुए 05 व्यक्तियों क्रमशः उमर उर्फ नाजिम निवासी बिजनौर को मुंबई से, गाजी बाबा उर्फ मुजम्मिल उर्फ जीशान निवासी उन्नाव को जालंधर पंजाब से, मुफ्ती उर्फ फैजान निवासी बिजनौर को बिजनौर से तथा जकवान उर्फ अह्तेशाम उर्फ एस के उर्फ मिंटू नि० नरकटिया को बिहार नरकटिया से गिरफ्तार किया गया। इसी प्रकरण से संबंधित वांछित अभियुक्त अबू जैद निवासी-आजमगढ़ को दिनांक 4 नवम्बर, 2017 की रात्रि में एयरपोर्ट, मुंबई से गिरफ्तार किया गया अबु जैद सऊदी अरब में ही रह रहा था व इसे पकड़ने के लिए लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया था।
प्ैप् एजेन्टों के विरूद्व कार्यवाही- 03 मई को प्ैप् नेटवर्क से जुडे एजेन्ट आफताब अली को फैजाबाद से गिरफ्तार किया गया। इसी क्रम में महाराष्ट्र पुलिस के सहयोग से अल्ताफ भाई कुरैशी निवासी गुजरात को भी मुम्बई से गिरफ्तार किया गया। आफताब् की गिरफतारी के बाद मिले साक्ष्यों के आधार पर 4मई, 2017 को जावेद निवासी मुंबई को मुम्बई से गिरफ्तार किया गया।
लश्कर-ए-तैय्यबा के आतंकी सलीम के विरुद्ध कार्यवाही- 17 जुलाई को सलीम खान निवासी जिला फतेहपुर को एटीस द्वारा मुम्बई एअरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया। 2008 में रामपुर ब्त्च्थ् हमले के लिए गिरफ्तार आतंकियों कौसर और शरीफ ने बताया था कि सलीम भी उनके साथ 2007 में मुज्जफराबाद में आतंकी ट्रेनिंग किया था। सलीम के लिए स्ववावनज छवजपबमजारी किया गया था।
अंसारूल बांग्ला टीम(।ठज्) के विरुद्ध कार्यवाही-6 अगस्त को बांग्लादेशी आतंकवादी अब्दुल्ला अल मामून को मुजफ्फरनगर कुटेसरा से गिरफ्तार किया गया। इसने फर्जी दस्तावेज के आधार पर अपना पासपोर्ट बनवाया था अब्दुल्लाह बांग्लादेश के प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन “अंसारुल बांग्ला” से जुडा है अब्दुल्लाह से
ही जुडे तीन बांग्लादेशी युवकों मोहम्मद इमरान, रजीदुद्दीन तथा मो0 फिरदौस को 13 सितम्बर को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया। अंसार उल बांग्ला टीम के सदस्य तथा एटीएस के अभियोग में वांछित आतंकी तौहीद उर रहमान उर्फ फजर अली की गिरफ्तारी पर 25 हजार का इनाम भी घोषित किया गया है।
ज्।क्। आरोपित के विरुद्ध कार्यवाही- 8 जुलाई को गुजरात और न्च् एटीएस द्वारा संयुक्त कार्रवाई कर नजीबाबाद, बिजनौर से ज्।क्। आरोपित कदीर अहमद निवासी बिजनौर को गिरफ्तार किया गया। 1993 मे मुंबई सीरियल ब्लास्ट के लिए टाइगर मेमन द्वारा सप्लाय किए गए हथियार और विस्फोटक जो जामनगर (गुजरात) मे उतरे थे, उसमे कदीर की भी भूमिका थी ।
नक्सलवाद के विरूद्व कार्यवाही- 1 मार्च को बिहार से 50 हजार के इनामी वांछित अपराधी नीतेश सिंह निवासी बिहार को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया । जिसके विरूद्व हत्या, हत्या के प्रयास फिरौती हेतु अपहरण एवं अन्य गम्भीर अपराधों से संबंधित लगभग एक दर्जन से अधिक मामलों दर्ज हैं।
बब्बर खालसा के सदस्यों के विरूद्व कार्यवाही- 16 अगस्त को एटीएस द्वारा बलवंत सिंह निवासी तरनतारन, पंजाब को लखनऊ से तथा 17 अगस्त को बब्बर खालसा के दुर्दांत सदस्य जसवंत सिंह उर्फ काला निवासी पंजाब को उन्नाव से गिरफ्तार किया गया स नाभा जेल पटियाला, पंजाब से 2016 में भागने वाले अभियुक्तों को असलहा सप्लाई करने एवं सहयोग देने के प्रकरण में 18 सितम्बर को अन्य वांछित अभि0 जितेन्द्र सिंह टोनी, सतनाम सिंह नि0 लखीमपुर को खीरी से तथा संदीप तिवारी निवासी सुल्तानपुर गिरफ्तार किया। 16 अगस्त को लखनऊ से गिरफ्तार बब्बर खालसा के अभि0 बलवंत सिंह से हुई पूछताछ के क्रम में इनके नाम प्रकाश में आये थे।
अवैध टेलीफोन एक्सचेन्ज अथवा सिमबाक्स चलाने वालों के विरूद्व कार्यवाही- 25 जनवरी को अवैध रूप से टेलीफोन एक्सचेन्ज(ैपउ ठवन) चलाने वाले रैकेट का भण्डाफोड़ करते हुए कुल 11 अभियुक्तों को यूपी के विभिन्न जनपदों एवं नई दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। इन लोगों के पास से 05 लेपटाप,16 सिमबाक्स, लगभग 128 सिम, 29 मोबाईल फोन तथा अन्य सहवर्ती संचार सामग्री बरामद किया गया स 17 अप्रैल को नोएडा टीम ने भी अवैध टेलीफोन एक्सचेन्ज के प्रकरण में 6 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया। 19 अप्रैल हो हरदोई सीतापुर से 07 अभियुक्तों को गिरफतार कर इनके पास से 48,467 सिम, 9 लैपटॉप, 58 फोन बरामद किया गया। 13 नवम्बर को एटीएस तथा लखनऊ पुलिस ने संयुक्त अॉपरेशन में फर्जी एक्सचेंज चलाने वाले 03 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 05 सिम बॉक्स और 110 सिम बरामद किये।
ैच्व्ज् का गठन- प्रदेश सरकार द्वारा आतंकवाद के खतरे से प्रदेश को और अधिक सुरक्षित करने के उद्येश्य से वर्ष 2017 में आतंकवाद निरोधक दस्ते में स्पॉट (ैचमबपंस च्वसपबम व्चमतंजपवदे ज्मंउ)का गठन किया गया । इसके लिए 694 पदों की स्वीकृति प्रदान की गई । इसी के साथ एटीएस में 316 नए पद सृजित किए गए ताकि आतंकवादियों के बारे में अभिसूचना संकलन, इंटरनेट की निगरानी और घटनाओं की विवेचना तेजी से हो सके । स्पॉट में 05 जनपदों की ैॅ।ज् टीमों के 86 जवानों को प्रशिक्षित किया जा चुका है।
अन्य कार्यवाहियां-08 जनवरी को जनपद कुशीनगर थाना तरयासुजान क्षेत्रान्तर्गत बिहार सीमा के सलेमगढ से 05 अभियुक्तो को गिरफ्तार कर उन कब्जे से 15 अवैध पिस्टल व 30 मैग्जीन बरामद की की गयी। 27 मार्च को जनपद लखनऊ के क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय में सक्रिय गिरोहों पर कार्यवाही करते हुए छः अभियुक्तों को गिरफतार कर उनके पास से कुल 73 पासपोर्ट, लेपटाप, कम्प्यूटर प्रिन्टर तथा अन्य कागजात आदि बरामद किया गया तथा 12 अप्रैल को सहायक पासपोर्ट अधिकारी सुधाकर रस्तोगी को गिरफ्तार किया गया।
16 फरवरी को एनआईए के अभियोग में वांछित बांग्लादेशी महिला नागरिक फातिमा को आगरा से गिरफ्तार किया गया।
25 जुलाई को कानपुर नगर के 04 शस्त्र विक्रेताओं को बिहार राज्य के कूट रचित शस्त्र लाइसेंसों पर शस्त्र बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। इसी से संबंधित वांछित अभियुक्त उपेन्द्र सिंह को बिहार से 14 नवम्बर को गिरफ्तार किया गयाा। कानपुर के एक शस्त्र दूकानदार राघवेंद्र सिंह चैहान निवासी कानपुर 28 मार्च को आतंकी सैफुल्लाह प्रकरण में अवैध रूप से कारतूस सप्लाई के आरोप में गिरफ्तार किया गया।
03 मार्च 2017 को ठैथ् के आरक्षी चंद्रपाल को आगरा से स्थानीय पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार कर दो कार्बाइन बरामद की गयी।
16 अप्रैल को एटीएस टीम ने सीआईसेल हैदाराबाद के वाछित अभि0 शिवबहादुर सिंह को तथा 24 अप्रैल को शैलेश सिंह को वाराणसी से सीआई सेल हैदराबाद के संयुक्त आपरेशन में गिरफ्तार किया।
वाराणसी में सेना की भर्ती में कुछ विदेशी लोगो के गलत नाम पते से भर्ती होने की जांच करने पर पाया गया कि कुछ लोग फर्जी प्रमाण पत्र पर भर्ती हो गये है। इस प्रकरण में 23 अक्टूबर 2017 को 02 लोगों तथा 28 अक्टूबर को 03 लोगों को वाराणसी से गिरफतार किया गया।
27 नवम्बर को कलकत्ता पुलिस के सहयोग से एटीएस टीम ने तृणमूल नेता की हत्या के मामले में वाछित भद्रेश्वर हुगली प0 बंगाल के 07 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया।
आर्र्र्र्र्र्र्र्ई0जी0 एटीएस ने बताया कि आतंकवाद की चुनौतियाँ गम्भीर हैं, जिनसे निपटने के लिए सरकार ।ज्ै को और सुदृढकर रही है। 2018 में ।ज्ै की ताकत बढ़ेगी जिसमे नयी टेक्नोलॉजी और संसाधनों से इसे सुसज्जित किया जा रहा है।
उपलब्धियों का वार्षिक विवरण-
गिरफ्तारियाँ दृ 85

isi से सम्बंधित 03
isis से सम्बंधित 05
लश्कर-ए-तैयबा से सम्बंधित 01
बब्बर खालसा से सम्बंधित 02
अवैध सिम बाक्स सम्बन्धी 27
सेना भर्ती प्रकरण 05
अवैध पासपोर्ट सम्बन्धी 07
अवैध बांग्लादेशी 05
अवैध शस्त्र सम्बन्धी 12
अन्य ;ज्।क्।ध्ईनामी@वांछित) 18
बरामदगी
पिस्टल 24
कार्बाइन 02
कारतूस (लगभग) 700
कंप्यूटर/लैपटॉप 14
मोबाइल- 93
अवैध सिमकार्ड 48705