उन्नावः चण्डिका देवी मंदिर में दानपात्र के पैसे को लेकर पण्डों में विवाद व घण्टे भी हुए चोरी - Police Wala News

उन्नावः चण्डिका देवी मंदिर में दानपात्र के पैसे को लेकर पण्डों में विवाद व घण्टे भी हुए चोरी

बीघापुर,उन्नाव। क्षेत्र में लोगों की आस्था का प्रतीक चण्डिकादेवी मन्दिर आए दिन क्षेत्र में चर्चा का विषय बना रहता है कभी मन्दिर के घण्टे काट जाते हैं तो कभी दानपात्र से पैसे गायब हो जाते हैं। मन्दिर में लगे सीसीटीवी कैमरे घटना के समय खराब रहते हैं और घटना के बाद सभी सही भी हो जाते हैं। मन्दिर में कोई सरकारी समिति नहीं है, मन्दिर की देखरेख व दानपात्रों में आए हुए धन का बन्दर बांट गंवई चर्चा के अनुसार वहीं के पण्डे आपस मे करते हैं। विशेष बात यह भी है कि वह सभी लगभग आपस में रिस्तेदार भी हैं।

मन्दिर के गर्भगृह चण्डिका माता व मन्दिर में बने अन्य छोटे छोटे मन्दिरों में कथित रूप से इन्हीं सबका कब्जा है और इन मंदिरों व दानपात्रों में जो भी धन भक्तों द्वारा दिया जाता है यही सब आपस मे बांटते हैं। इसी आपसी बंटवारे को लेकर आएदिन तू तू मैं मैं होती है। सूत्र बताते हैं की सोमवार की शाम इसी बंटवारे के समय आपसी विवाद हुआ उसी विवाद के चक्कर में दानपात्र में रखा धन कोई लेकर रफूचक्कर हो गया। विवाद थाना बरासगवर पहुँचा पर दानपात्र का धन गायब हो गया । साथ ही पूरी घटना को ही खत्म कर दिया गया।अगर यह बात समाज या मीडिया में गई तो सरकार का ध्यान भी मन्दिर तरफ जा सकता है यह बात दबी रहना भी इस लिए जरूरी हो जाता है कि लाखों रुपए का चढ़ावा इन्हीं लोगांे के पास हजम हो जाता है ।

खैर इससे किसी को कोई लेना देना नहीं है क्योंकि माता जी के भक्त कहते है शंकर जी पर चढ़ी छोहारी ,कूकुर खांए चाहे बिलारी ।वही एक बात और चर्चा में बनी रहती है अभी एक सप्ताह पहले मन्दिर के घण्टे चोर काट ले गए जिसका अभीतक पता नही चला जबकि मन्दिर में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं पर बताया जाता है उसदिन वह कैमरे खराब हो गए थे ।अब खराब हो गए थे या खराब कर दिए गए थे ।यह तो जांच करने वाले जाने ,पर समय रहते प्रषासन द्वारा कोई ठोस कदम न उठाया गया तो इन्हीं उपरोक्त चीजों को लेकर भविष्य में खूनी संघर्ष हो सकता है.

रिपोर्टः डाॅ0 मान सिंह